साली – जीजा जी, एक गेम खेलते हैं

जीजा – कौन सा गेम?

साली – जीजा जी, अगर मैं कलर का नाम लूं, तो आप बाईं
दीवार को हाथ लगाना और फल का नाम लूं,
तो दाहिने वाली दीवार को हाथ लगाना

जीजा – अगर मैं जीत गया तो?

साली – जो हारेगा वो जीतने वाले की हर बात मानेगा और वो भी जिंदगी भर

जीजा(खुश होते हुए) – ये गेम तो मैं ही जीतूंगा, चलो खेलते हैं

साली – ठीक है तो शुरू करते हैं, ‘ऑरेंज’

अब जीजा दो दिन से सोच में पड़ा हुआ है कि साली ने कलर बोला या फल?

रोनित, गुरूग्राम

Spread the love

By