सोनू– यार मोनू तू हमेशा मेरे साथ रहा है

जब मेरा एक्सीडेंट हुआ तब भी

जब मेरी नौकरी चली गई तब भी

जब मेरे पापा ने मुझे घर से लात मारकर निकाल दिया तब भी…तू मेरे साथ था…

मोनू– मैं हमेशा तेरे हर बुरे समय में साथ रहूंगा मेरे दोस्त

सोनू– अरे दूर हट मुझसे…लगता है तू ही पनौती है

अनुराग, प्रयागराज

Spread the love

By